राजस्थान की बूड्डी डोकरी

राजस्थान की बूड्डी डोकरी 


एक बार एक मुकदमे में डोकरी गवाह बना दी गई।

डोकरी कोर्ट में जा कर खड़ी हो गई,

दोनो वकील भी डोकरी के गाँव के ही थे !

पहला वकील बोला= " डोकरी तू मन्ने जाणे हैं के ?

डोकरी बोली= हाँ भाई तू रामफूल्या का छोरा है ना,

तेरो बापु घणो सूधो आदमी हो बापङो ।

 पण तू निकम्मो एक नम्बर को झूठो।

झूठ, बोल बोल कर के तूं लोगां ने ठगै हैं हरामी

" झूठा गवाह " बणा बणा   कर  तू किया झूठ न साच ओर साच न झूठ बणार जीते  हैं कुत्ता

थार से तो सगला लोग परेशान है, रे हरामी

तेरली लुगाई भी परेशान हो कर के तन्ने छोड़ कर भाग गी।

वकील बेचारा चुप हो कर के देखने लगा ।

उसने सोचा मेरी तो घणी बेइज्जती हो गई अब तू दुसरे की और करा,

उस वकील ने थोडी देर में
दूसरे वकील की तरफ इशारा कर के,

पुछा="डोकरी"तू इने जाणे हैं के?

डोकरी बोली=" हाँ "

ओ छगन्या को छोरो हैं ।

 इको बापू निरा रूप्या खर्च करके इने पढ़ायो पण ओ कमीण कि कोन सिख्यो

सारी उमर छोरियां के पीछै हांडतो फिरतो रेतो हो ।

इको चक्कर थारली लुगाई उ  भी हो !

(कोर्ट में बैठी जनता हंसण लाग गी )

जज बोला :- "आर्डर आर्डर"।

और दोनो वकीलों को अपने चेम्बर में बुलाया।

जज बोला=अगर तुम दोनो वकीलों में से किसी ने भी इस बुडिया से ये पूछा के,

" इ जज न जाणो होके "

तो म था दोन्या क गोली मरवा देवुला कमिणो
😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂😂
हंसना मना है

और नया भी है

😜😜😜😜😜🗡😜
मजा लो

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जो लोग पत्नी का मजाक उड़ाते है।

एक फेमस हॉस्पिटल

“ मैंने दहेज़ नहीं माँगा ”